AB PUCH LYRICS in Hindi – EMIWAY BANTAI

अबी बंटाई का एब पुच लिरिक्स नवीनतम हिप हॉप गीत है जिसमें 6LACK और टी-दर्द वन वे इंस्ट्रुमेंटल द्वारा संगीत दिया गया है। एब पुच गीत के बोल एमिअवे द्वारा लिखे गए हैं।

ab-puch-emiway

AB PUCH Song Detail

Lyrics/Artist/Mix/MasterEmiway Bantai
Music6LACK & T-Pain One Way Instrumental
Shot byसुमित सिंह
Edited by
VBreak and Emiway

AB PUCH LYRICS in Hindi – EMIWAY BANTAI

पुछल देखल मन खूद सी हँ केने बर
क्या सब कुछ कह रहा है
जो हो रहा है वो हो गया
को फिरा केयो दारो है हुण

धेरे धेरे झिममेड़ी आन लागी
मैना दीख की
आब मेन खूद से सुधर रा हूं
दोस्ती यार मझिमाड़ी में चढने लग गई
आब मुख्य उरार रा हुण

बदालना है सब कुच्छ
यूँ तान लिया है मन में बहुत कुछ
जो भी कहे तू तू कामायेगा
ये सब तू करके आजा बेटा अब पुच
आब पुच, अब पुच

हन आ पुच मुजे मुख्य बोलुन ये शूरुआत है
गाना रिकॉर्ड हो रेहला है और हो रेला है
सब सले सोहिं ये कइसे लख पावै है
इत्नी सरी बातें मुजे काफी दाएंतिन घरवाले

उस्के बीना हम कहि न कहत पाटे
डिस खेल मइँ माअर दलते सब लोग को तड़पा के
स्टूडियो मैं काफ़ी दिन काम का
माज़ा आ राहा घर आके

कर आंखे उठ उठ आज घूमे कार में
पेहले लेके स्कूटर अस पस बोहत शूटर
उदता कबूतर हन
भूलभुलैया लइया मन बीना फेम के
लागोरी से लेके सांप सीड़ी लूडो खेल के भी
पेहन के भी घूमे हो मुख्य शक्तमन के कपडे
बचपन से अले तरा
पागल से लडके पे भड़के कुच्छ लॉग
क्यूँ की लडका ये खूद लडके बाटे करे रा
चढ के अपार को सब सेके रे गे

हम ते बेस गय बाकि सब बीह गे
लालच में पइसे के कगाज में
मगज़ मे ललच ना कभि मुख्य गउसेन दीया
म्हणत किआ मनि जम के और
मुजे बेटा हमारे दीए छप्पड़ फाड़ के
आब पुच, अब पुच

कोय नी पुछे जाब त उचे न हो जाऊ जिंदगी
कु छ है से सरफ दौलत है चरणले गंदगी मे
अइसे सोख वले खुद को पेहले सहा जग पे पेउछा ले
दिमाग इंका शचलय
आइसा सोख समाज न काभी
सबका भला सामाजिक हं आगा बड़हा तबही मुख्य
अबी मुख्य वहााँ पे न जहान पे थम पेहले
ऐयले सब यहां पे एकले कौन जायेंगे

थकेले ना बन के जेना
हाथ जोड़ी है खूने पसेना बह के लाडो
तकलीफ़ें से जा जा के दीखो किन्नर लॉग
ताकलीफन के भ वोह सपनो के अयस्क डूड
किला राखे ठोक दे हथोडे
इज्जत नहीं कामायेगा से लेकर नंगे वेह तक

कइको फोड कयेको तोड़े
किसको कयाको निकोड
आइसा कोइ आयेगा जो जो इन्सान को जोडे
माका छोडे टैब जाके दिमाग डूड
ऐस कीन्ने लोग हैं जो जग कर भी रहे हैं
उत जाउ
आब पुच, अब पुच

इंसां के अंख में कुफ दे खा
सच देख के कर्ता और नेखा
सबने बैठा के मजा दे खा
आपन भलाई पे मन बेहका है सबका
दुनिआ खटम कब का हो चुका है
लॉग नहि सुनि रहे रब का
सबको आपनी पड़ी है
कौन किसको दे रा फटका
सिरफ भूलभुलैया लिने मे भातका
ज़िन्दगी में है अटका
दिमाग मे कच्छ भारा है
लागे ले झादू कटका
क्यूँ फोकट का कहना है कि आज भी है
इन्सानो पे लानत है
घलाट होटे देखें की इनकी आजाद है

याहँ सोख बोहत छी और लमबे इमरत है
कहल पइसे को गोरा कर के कोख दावत हे
खुल के बात करूँ मन की बात
यहान बेटा सबको इज्जत है खलके बोल!
आब पुच, अब पुच

पुछल देखल मन खूद सी हँ केने बर
क्या सब कुछ कह रहा है
जो हो रहा है वो हो गया
को फिरा केयो दारो है हुण

धेरे धेरे झिममेड़ी आन लागी
मैना दीख की
आब मुख्य खूद से सुधर रा हूं
दोस्ती यार मझिमाड़ी में चढने लग गई
आब मुख्य उरार रा हुण

बदालना है सब कुच्छ
यूँ तान लिया है मन में बहुत कुछ
जो भी कहे तू तू कामायेगा
ये सब तू करके आजा बेटा अब पुच
आब पुच, अब पुच

एमीवे बंटाई
मलूम है ना
हाहाहा शांति

AB PUCH Video – EMIWAY BANTAI

For more Lyrics Click Here